Motivational Shayari

 

अपनी मर्ज़ी से कहाँ सफर के हम हैं

रुख हवाओं का जिधर का है उधर के हम हैं

 

ज़मीन में बैठ कर क्यों आसमान देखता है

पंखों को खोल जमाना सिर्फ उड़ान देखता है

 

घोंसला बनाने में हम यू मशगूल हो गए

उड़ने को पंख भी थे यह भूल गए

 

राह की धुप मेरे काम आई

छांव होती तो सो गया होता

 

डर मुझे भी लगा फासला देखकर,

पर मैं बढ़ता गया रास्ता देखकर।

खुद-ब-खुद मेरे नज़दीक आती गयी ,

मेरी मंज़िल मेरा हौसला देखकर

 

अपने खिलाफ बातें ख़ामोशी से सुनो ,

यकीन मानों वक़्त बेहतरीन जवाब देगा।

 

पैरों को बस चलना सिखा दो ,

मंज़िल करीब आती चली जाएगी।

 

मुश्किलों के रास्ते जो भी चलता है ,

बस वही इस दुनिया को बदलता है।

 

हम ज़्यादा मेहनत करेंगे

तभी कुछ होगा ,

कुछ ही मेहनत करेंगे

तो कुछ नहीं होगा।

 

हर जज्बात को जुबान नहीं मिलती,

हर आरजू को दुआ नहीं मिलती,

मुस्कान बनाये रखो तो साथ है दुनिया,

वर्ना आंसुओ को तो आंखो मे भी पनाह नहीं मिलती।

 

नजर-नजर में उतरना कमाल होता है,

नफ़स-नफ़स में बिखरना कमाल होता है,

बुलंदियों पे पहुंचना कोई कमाल नहीं, बुलंदियों पे ठेहराना कमाल होता है।

 

खुल कर तारीफ भी किया करो,

दिल खोल हंस भी दिया करो,

क्यों बांध के खुद को रखते हो,

पंछी की तरह भी जिया करो।

 

Motivational Shayari

Latest Successful & Motivational Shayari in Hindi 2021 Sometimes you lack confidence and you need the motivation to continue your journey in life. When you
close

Ad Blocker Detected!

Refresh